BREAKING NEWS

Politics (राजनीति)

Sports (खेल-खिलाड़ी)

Entertainment (मनोरंजन)

Saturday, 27 May 2017

परसपुर : पुलिस मस्त, अपराधी बेखौफ, पीड़ित त्रस्त-SURENDRA TIWARI सुरेन्द्र तिवारी की एक रिर्पोट


सुरेन्द्र तिवारी 

परसपुर।-पुलिस की निष्क्रियता के चलते अपराधियों के हौसले बुलंद है।आलम यह कि एक सप्ताह के भीतर बेखौफ अपराधियों नें लूट, छिनैती, चोरी व जानलेवा हमले सहित अन्य बड़े अपराधों को अंजाम दिए है।पुलिस इन सभी मामलों में कार्रवाई के नाम पर फिसड्डी रही।

जिससे अपराधियों के हौसले और भी बुलंद रहे,जिससे पीड़ितों को थाने पर न्याय नही मिल पा रही।पुलिस पहले घटित अपराधों को दर्ज नही करती, एक आध जो किसी तरह पुलिस रिकार्ड में दर्ज भी हुए, तो पुलिस ने न ही उसका खुलासा ही किया और न ही कोई निरोधात्मक कार्रवाई ही की।
*केस नं०-एक*चार मई की रात्रि ग्राम राजापुर निवासी प्रधान जायसवाल की स्पेलेण्डर बाइक चोरो ने भौरीगंज पसका तिराहा स्थित दुकान के बाहर से उड़ा दी।पीड़ित थाने का चक्कर लगाता रहा लेकिन पुलिस ने पीड़ित को टरकाती रही।
*केस नं०-दो*सात मई को ग्राम प्यौली के पूरे बिलन्द गांव में एक तिलक समारोह के दौरान दबंगों ने पुरानी रंजिश में पिता पुत्र को पीटा और बाईक फूक दी।पुलिस ने बमुश्किल रमेश सिंह की तहरीर पर गांव के प्रधान सहित चार लोगो के विरूद्ध फायरिंग एवमं जानलेवा हमला करने सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया।
कार्रवाई के नाम पर अबतक सिफर।पीड़ित भयभीत।
*केस नं०-तीन* चौदह मई को बाईक सवार बदमाशों ने तमंचे के बल पे चरसडी़ बंधे पर परसपुर के साराफा व्यवसाई गोमती प्रसाद सोनी से लाखों रुपयों के सोने चांदी से भरे बैग छीनकर फरार हो गए।
पुलिस ने मीडिया में खबर आने पर केस तो दर्ज किया पर लुटेरे पुलिस पकड़ से दूर रहे।
*केस नं०-चार* पंद्रह मई को बाईक सवार बदमाशों नें पसका मार्ग पर मुनीम सिंह नामक एक फेरी वाले की पिटाई कर उससे तीन हजार रुपए लेकर भाग निकलें। भुक्तभोगी पीड़ित ने बताया कि पुलिस को सूचने देने के बाद रिर्पोट नही दर्ज की।वह रहने वाला जिला कानपुर थाना तेजकमल घाटमपुर का है।जो फेरी कर कपड़े बेंचता है।
*केस न०- पांच* बाइस मई को परसपुर के गोरछान पुरवा निवासिनी सुनीता को उसके पति ने मारपीट कर घर से भगा दिया वह अपने तीन बच्चों को लेकर थाने जाकर तहरीर दी परन्तु पुलिस सुनवाई को कौन कहे उल्टा ही उसे फटकार कर थाने से भगा दिया गया।पीड़िता का कहना है कि वह थाने का एक सप्ताह से चक्कर काट रही है पर पुलिस रोज कल आने की बात कहते रहे।जिससे वह जिंदगी से तंग आ चुकी है।
यह सब तो मात्र एक सप्ताह का बानगी है।बहुत मामले ऐसे है जो दर्ज नही हुए, जो दर्ज भी हुए उसका पुलिस नें आज तक उसका खुलासा नही किया।

एसओ देवेन्द्र पाण्डेय ने बताया कि मामला संज्ञान आने पर त्वरित कार्रवाई की जाती है। दर्ज मामलें का शीघ्र खुलाशा किया जाएगा।





फैज़ाबाद : प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन पर लगा ग्रहण ,गाँव मे लगा गन्दगी का अम्बार -SURENDRA TIWARI सुरेन्द्र तिवारी की एक रिर्पोट


सुरेन्द्र तिवारी 
कादीपुर फैज़ाबाद | सोहावल विकास खंड के ग्राम पंचायत कादीपुर के मजरा बहादुरपुर  में नाली न होने के कारण वीरेंद्र पांडेय के घर के बाहर गंदगी का अंबार लगा हुआ है। 

वही बीरेंद्र पांडेय का कहना है कि आरसीसी सड़क 10 फुट चौड़ी और 90 मीटर लम्बी बननी थी लेकिन 10 फुट की जगह मौके पर 8 फुट चौड़ी बनी 2 फुट नाली के निर्माण के लिये छोड़ दिया गया था लेकिन दबंग भूमाफियाओ ने लेखपाल वह कानूंनगो की मिलीभगत से बची 2 फुट चौड़ी वह 100 मीटर लम्बी जगह पर आवेद कब्जा कर लिया है  वही गांव में नाली न होने से चहुंओर उठ रही दुर्गंध से बूढ़े व बच्चे परेशान है। घर के बाहर बजबजा रहा गन्दा पानी। वह मच्छरों की बढ़ रही जनसंख्या संक्रामक बीमारी बांटने को बेताब है, बावजूद जिम्मेदार अनजान हैं। ग्रामीण अनिरुद्ध पांडेय ने बताया कि घर के सामने की नालि न होने के कारण पानी जाम हैं, उसका सारा गंदा पानी मुख्य सड़क पर बह रहा है। ऐसे में घर से निकलना मुश्किल हो गया है। वही सुरेश पांडेय ने बताया कि ब्लाक पर कई बार शिकायत किया मगर कोई सुनवाई नहीं हुई। वही रामलगन ने बताया की जो गन्दगी हमने कभी नही देखी वह हमें उम्र के आखिरी पड़ाव में देखना पड़ रहा है  नाली का सारा पानी घर में भरा रहता है। सीड़न की वजह से इस चिलचिलाती गर्मी में और मुसीबत हो गई है। मच्छरों के प्रकोप व संक्रामक बीमारी खौफ हर वक्त बना रहता है। वही ग्राम प्रधान का कहना है कि स्वयं के स्तर से काफी प्रयास किया मगर अधिकारियों द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया गया।जब सरकारी कारिन्दे ही सरकार की योजनाओ मे पलीता लगा रहे हो तो सरकारी योजनाएँ कहाँ तक प्रभावी हो पायेगी।




नौतनवा : कटिंग के चक्कर में पलटी ट्रक दो घायल -पवन विश्वकर्मा की एक रिपोर्ट सोनौली महराजगंज से ।

पवन विश्वकर्मा 

शनिवार की सुबह नौतनवा माल गोदाम से लोहा लाद कर एक 10 चक्का ट्रक सोनौली के लिए चला रास्ते मे  कोतवाली के आगे ही कटिंग के चक्कर में फेल होकर पलट गया। जिसमें दो घायल हो गए इस में खलासी की हालत गंभीर है।

खलासी को घायल अवस्था में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुचाया गया। घायल व्यक्ति का नाम आबिद पुत्र मुहम्मद समीम बिहार का निवासी बताया गया है।इस संबंध में कोतवाली प्रभारी श्री टी पी श्रीवास्तव ने कहा कि लोहा से लदी ट्रक पलटी है खलासी गंभीर रूप से घायल है। ट्रक आपस में ओवरटेक के चक्कर में पलटी है।


विभिन्न थाना अंतर्गत शराब के साथ व्यक्ति गिरफ्तार:-प0 चंपारण बेतिया सतेंद्र पाठक

प0 चंपारण बेतिया सतेंद्र पाठक

बेतिया। प0 चंपारण के समकालिन अभियान मे सहोदरा थाना से दिनांक 26 मई 2017 को भीख्ना ठोरी जंगल से शराब के नशे मे 4 व्यक्ति गिरफ्तार , 2 मोटर साइकल बरामद ।
ग्राम पड्रौन मे 150 लीटर शराब बनाने का पाश नष्ट किया गया ।
गिरफ्तार व्यक्ति नरकटियागंज सभी ग्राम , मठ मझरीया , गौनाहा निवासी दीपक कुमार , संदीप शर्मा, हीरालाल शर्मा, सुनिल कुमार को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजे जा रहे है। वही कंगली थाना में समकालीन अभियान के तहत  सा0 गम्हरिया  के नथुनी बिन पे0 अयोध्या मुखिया को करीब 4 ली0 चुलाइ शराब के साथ पकड़ा गया हैं। काण्ड दर्ज कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा जा रहा हैं।



खुदा का सबसे अच्छा नेमत रमज़ान और तरावीह:-कौनैन बसीर (संवाददाता) उदाकिशुनगंज, मधेपुरा


कौनैन बसीर (संवाददाता) उदाकिशुनगंज, मधेपुरा

 

मुस्लिम धर्मावलंबियों के लिए रमज़ान का महीना अतिविशिष्ट एवं अत्यंत पवित्र होता है । यह महीना इसलिए भी अतिविशिष्ट है, क्योंकि इसी महीना में पवित्र ईश्वरीय ग्रंथ   "कुरआन" आसमान से नाजिल (उतरना  ) शुरू हुआ । अगस्त 610 ई. में पैगंबर हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के सैयदुल मलाइका फरिश्तों के सरदार अर्थात प्रमुख देवदूत हजरत जिब्रईल अलैहिस्सलाम खुदा की ओर से पहला संदेश  "वही" (आकाशवाणी ) लेकर आए। जिब्रईल ने हजरत मुहम्मद (स अ) से कहा - "पढ़ो"। यहीं से कुरआन का नजूल अथवा अवतरण शुरू हुआ । रमजान का महीना 29 या 30 दिनों का होता है। कुरआन का नजूल रमज़ान महीना के अंतिम 10 दिनों के शब ए कदर में हुआ । धार्मिक ग्रंथ के अनुसार कुरआन थोड़ा थोड़ा करके कुल 23 वर्षों की लंबी अवधि में कुर 30 पारा (अध्याय) के रूप में नाजिल हुआ। मुस्लिम वैधानिक ग्रंथ ( हदीस ) "सही बुखारी " में है कि हमने  ( खुदा) इस कुरआन को थोड़ा थोड़ा करके इसलिये नाजिल किया, ताकि तुम ( मुसलमान ) ठहर -ठहर कर इसके संदेश को लोगों को सुनाओ। यों तो कुरआन पाक का पढ़ना प्रत्येक दिन पुण्य का काम है परन्तु रमज़ान के महीने में इसके पाठ की अहमियत कुछ और ही है । हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया है कि रोजा और कुरआन क्यामत के दिन बंदे की पैरवी करेंगे । चूँकि कुरआन में सृष्टि के आरंभ से अंत तक का उल्लेख करते हुए शांति, शिक्षा, समता और सद्भावना का भी उल्लेख किया गया है, इसलिए कुरआन के उपदेश को व्यवहारिक जीवन में उतारने के लिए रमज़ान का महीना "प्रशिक्षण के महीने " की तरह होता है, ताकि वर्ष के अन्य महीने में मुसलमान कुरआन के उपदेशों के अनुसार जीवन व्यतीत कर सकें। नमाज-ए-तरावीह रमजान में पाँच वक्तों की निर्धारित नमाज के अलावा रात्रि में एक विशेष नमाज पढ़ी जाती है जिसे "तरावीह" कहते हैं । यह नमाज रमजान का चांद देखकर प्रारंभ होती है और ईद का चांद नजर आते ही समाप्त कर दी जाती है । चूँकि नमाज ए तरावीह को हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने प्रारंभ किया था, इसलिए इसे सुन्नत ए मोवक्केदाह ( अनिवार्य ) करार दिया गया है । स्त्रियां घर में तरावीह पढ़ सकती हैं, जबकि मर्दों को जमाअत ( समूह) के साथ मस्जिदों में पढ़ने का हुक्म है। प्रत्येक रात्रि इंशा की नमाज के बाद तरावीह की नमाज पढ़ी जाती है । यह नमाज 20 रिकातों की होती है। तरावीह पढाने वाले इमाम को "हाफिज " कहा जाता है । हाफिज शब्द "हिफ्ज" से बना है जिसका अर्थ है कण्ठस्थ याद कर लेना । हाफिजों को कुरआन पाक का तीसो अध्याय कंठस्थ याद रहता है। इसका याद करना बड़ा मुश्किल भरा काम होता है। हाफिज बनने के लिए बचपन से ही प्रयास करना होता है । वही हाफिज बनते हैं जिनकी बुद्धि तीक्ष्ण और स्मरणशक्ति मजबूत होती है । नमाजे तरावीह अत्यन्त लाभप्रद इबादत  (उपासना ) है । सच्चा मुसलमान सुन्नत ए मुहम्मदी पूरी करने तथा खुदा की नजदीकी हासिल करने के लिए इसे पढते हैं। तरावीह पढना स्त्री -पुरूष दोनों के लिए अनिवार्य है । "हदीस शरीफ" में लिखा है कि सर्वप्रथम हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने  तरावीह की 20 रकआत नमाज पढनी शुरु किया। तत्पश्चात उनके प्रिय शिष्य हजरत उस्मान( रजि) और हजरत अली ( रजि. ) ने भी 20 रकातें पढ़ी। लिहाजा तरावीह की नमाज 20 रिकातें पढना सुन्नत ए मोवक्केदाह करार दिया और इसका नहीं पढना महापाप ठहराया गया। इमाम ए आजम अबू हनीफा ने बताया है कि तरावीह की प्रत्येक चार रिकातों के बाद कुछ देर बैठ जाना चाहिए । हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया है कि रमज़ान में जो लोग रोजा रखेंगे और नमाज ए तरावीह पढेंगे वह उसी प्रकार पवित्र हो जाएंगे, जिस प्रकार माँ के कोख से जन्म लेनेके वक्त पवित्र थे। नमाज ए तरावीह में कुरआन के 30 अध्यायों का एक बार  समाप्त करना जरूरी है। दो या तीन बार खत्म हो जाए तो और बेहतर माना गया है। इमाम आजम अबू हनीफा के अनुसार तरावीह की प्रत्येक रिकात में कुरआन की दस आयत ( वाक्य ) पढी जानी चाहिए । इस हिसाब से एक महीना में आसानी से कुरआन मुक्कमल पढ़ा जा सकता है । तरावीह नमाज एक सलाम से दो - दो रिकात की नीयत करके पढनी चाहिए । नबी मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया है नियमानुसार रोजा रखने और तरावीह पढने से मनुष्य शुद्धता, ईशता और उच्च नैतिकता को प्राप्त कर सकता है, जिससे विश्व कल्याण संभव है ।



फ्रैंड्स आॅफ आनंद का एक दिवसीय धरना प्रदर्शन संपन्न :-कौनैन बसीर(संवाददाता) उदाकिशुनगंज मधेपुरा

कौनैन बसीर(संवाददाता) उदाकिशुनगंज मधेपुरा


स्व ललित बाबू के सपना बिहारीगंज भाया सोनवर्षा, सिमरीबख्तियारपुर तथा नौगछिया माया उदाकिशुनगंज को रेल मार्ग से जोड़ने की मांग।
राष्ट्रीय राजमार्ग राष्ट्रीय राजनीति का शिकार बन गया है :- लवली आनंद 







पूर्व सांसद लवली आनंद ने कहा कि आजादी के सात दशक बाद भी उदाकिशुनगंज अनुमंडल राष्ट्रीय स्तर पर सबसे पिछड़े इलाके में एक है। उन्होंने कहा कि देश का सबसे पिछड़ा प्रदेश बिहार है, बिहार का सबसे पिछड़ा क्षेत्र कोसी है और कोसी का सबसे पिछड़ा इलाका उदाकिशुनगंज अनुमंडल है। उन्होंने कहा कि इतने बड़े क्षेत्रफल और घनी आवादी होने के बावजूद एक महिला डिग्री काॅलेज का न होना यह सबूत है कि आधी आवादी को शिक्षा से बंचित रखा गया है। पूर्व सांसद लवली आनंद उदाकिशुनगंज अनुमंडल कार्यालय के सामने फ्रैंड्स आॅफ आनंद के बैनर तले आयोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कार्यक्रम को संबंधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि पूरे आलमनगर की स्थिति अत्यंत नारकीय है। प्रदूषण, जाम और जल जमाव इसकी नियति बन चुकी है।लेकिन जनप्रतिनिधि पटना और दिल्ली में सुख की नींद सो रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र मक्का का सबसे बड़ा उत्पादक है और आलमनगर मकान का गुलाबबाग से भी बड़ी मंडी है। लेकिन सरकारी नीतियों के कारण यहाँ के असहाय किसान बड़े व्यवसायियों और बिचौलियों के शोषण के शिकार हो रहे हैं। उन्होंने मक्का आधारित उद्योग और गन्ना के मद्देनजर चीनी मिल की स्थापना की सरकार से मांग की। उन्होंने केन्द्र सरकार से मांग की कि स्व ललित बाबू के सपना और उनके समय से लंबित बिहारीगंज भाया सोनवर्षा राज, सिमरीबख्तियारपुर तथा नौगछिया भाया उदाकिशुनगंज को रेल मार्ग से जोड़ा जाय। उन्होंने कहा कि बिहपुर नेशनल हाईवे   को  एन एच 106,107 से जोड़ने के लिए भी आवाज बुलंद किया ।



1903 ईँ से हो रहा है इस गाँव में रामलीला का मंचन:-जमुई से प्रशांत किशोर की रिपोर्ट


जमुई से प्रशांत किशोर की रिपोर्ट:-


जमुई:-एक तरफ जहाँ समाज आज के बदलते दौर में इसे भौतिकवादी युग को मान मोबाईल ,इंटरनेट ,मल्टीप्लेक्स ,पब डी जे आदि मनोरंजन के प्रसाधनों का उपयोग कर मन को सन्तुष्टी देने का प्रयास कर रहे हैं।वहीँ परम्परा को जीवंत किये हुए भक्ति रस के ओत प्रोत नाट्य रूपांतरण के द्वारा आम ग्रामीणों को  मनोरंजित करने के लिए रामलीला कार्यक्रम आयोजित होता आ रहा है।जी हाँ मैं बात कर रहा हूँ जमुई जिले के खैरा प्रखंड अंतर्गत गोपालपुर पंचायत अवस्थित चौहानडीह ग्राम की जहाँ 1903ई से ही रामलीला का आयोजन किया जा रहा है।इस गांव के अलावे रायपुरा,घनबेरिया,भौड़ आदि गांव के ग्रामीणों के द्वारा देश में  अंग्रेजी हुकूमत के समय से  रामलीला का मंचन के लिए लीला मण्डली का नींव रखा गया था।उस समय से लगातार इस गांव में रामलीला आयोजित किया जा रहा है।।इस रामलीला मण्डली में ब्यास की भूमिका के वर्षों से रणजीत सिंह निभा रहे हैं।मेरे पिताजी भी इस रामलीला मण्डली में ब्यास की भूमिका में रहते थे।रामलीला के नाम  रंगमंचीय चरित्र चित्रण प्रस्तुत की जाती है।सैकड़ो हजारों ग्रामीणों के समक्ष रंगमंचीय प्रस्तुति  के बारे में जानकारी देते हुए ब्यास रंजीत सिंह ने कहा की मर्यादा पुरषोत्तम श्रीराम की जीवनी पर आधारित तुलसीदास द्वारा रचित रामचरित मानष के श्लोकों को शुद्ध-शुद्ध पाठ उच्चारण कर तथा उन श्लोकों के साथ उक्त पात्रों को डायलॉग के साथ अपनी अदाकारी मंच पर दिखानी पड़ती। राम जन्म,लक्ष्मण- परशुराम संवाद ,भरत मिलाप संवाद ,राम दरबार आदि कई मनभावन लीलाओं की प्रस्तुति से सभी दर्शकों को भक्तिरस से सराबोर रहता है। इस रामलीला मण्डली में भाग लेने वाले पात्र-- बृजमोहन सिंह, कल्याण सिंह और उनके पौत्र ,मनोज सिंह,बिजय सिंह ,मृत्युंजय सिंह,दिवाकर सिंह,हरिनंदन सिंह ,सन्नो सिंह,इंदुभूषण सिंह,गिन्नी सिंह,गुड्डू सिंह,कक्कू सिंह,दामोदर सिंह,बजरंगी आदि ने जानकारी दिया की रामलीला में रामचरित मानष में बिभिन्न कांड के लीला प्रस्तुति के लिए अलग अलग पात्रों का चयन हम सभी रामलीला मण्डली में ही पात्र बदलकर कर लिया जाता है।इस ग्रामीण लीला मण्डली में कई पात्र तो एक ही घर के दादा ,पोता, चाचा आदि पात्र के रूप में वर्षों से भाग लेते आ रहे हैं ।तो वहीँ कई बार एक साथ मंच पर गांव के  पिता पुत्र भी अदाकारी कर रामलीला मण्डली में भाग लेते रहते हैं।मण्डली के युवक पात्रों ने बताया की इस रामलीला मण्डली के पास तमाम बेष भूषा तथा साज सज्जा आदि के लिए लगभग सभी सामान वर्षों से उपलब्ध है।

वरिष्ठ भाजपा नेता और ग्रामीण संतोष सिंह उर्फ़ पप्पू सिंह ने अनुभव साझा करते हुए बताए की मेरे जन्म से वर्षों पहले 1903ई से ही लगभग 114 साल यानि अंग्रेज का शासन काल से ही रामलीला हो रहा है।गांव के पुर्वजों ने ही इस गांव में रामलीला का आयोजन की नीव रखे थे।जिसमे आज तक गांव के  कई परिवार के कई पीढ़ी इस लीला मण्डली में रंग मंच की शोभा बढ़ाते हुए भाग लेते आ रहे है।ग्रामीण अनिल सिंह, पिंटू सिंह ,जितेंद्ग सिंह,बीरेंद्र सिंह, गौरब ,रौशन ,सौरभ आदि ने बताया की लगभग एक महीने लगातार प्रत्येक रात्रि को गांव के शिव मंदिर परिसर में बने रंगमंच पर रामलीला होती है।रामलीला मंचन की समाप्ति के उपरांत प्रसाद बितरण किया जाता है।इस रामलीला आयोजन के दौरान गांव के सभी घरों में स्वाभाविक रूप से सात्विक भोजन ही बनाते और खाते हैं।रामलीला आयोजन की ब्यवस्था के लिए प्रतिवर्ष गांव में ही  सामूहिक चंदा कर लेते हैं।



प्राथमिक विद्यालय यादव टोला नर्हैया का स्थिति दयनीय:-राजेश कुमार चौधरी छातापुर (सुपौल )


राजेश कुमार चौधरी 
छातापुर (सुपौल )


प्रखंड स्थित प्राथमिक विद्यालय यादव टोला नर्हैया का स्थिति दयनीय है । ज्ञात हो  कि शनिवार को 10 बजे  विद्यालय मे कुल 8 बच्चे उपस्थित थे । वहीँ एक शिक्षक प्रधानाध्यापक अरुण कुमार विद्यालय में मौजूद थे । बाकी शिक्षक के बारे मे पूछने पर उन्होने बताया की एक शिक्षक और था जो घर चला गया है बाकी छुट्टी में है ।  प्रधानाध्यापक अरुण कुमार ने बताया की इस विद्यालय में कुल 106 बच्चे  नामांकित है ।  इस विद्यालय में कुल चार शिक्षक पद्स्थापित हैं ।लेकिन शनिवार को प्रधानाध्यापक अरुण कुमार ने बताया कि  आज 80 बच्चे उपस्थित है  वही विद्यालय में मात्र 08 बच्चे ही नज़र आया । वहीं मध्याह्न भोजन में सिर्फ खिचड़ी ही खिलाया गया जब चोखा के बारे मे पूछा गया तो  प्रधानाध्यापक अरुण कुमार ने  बताया  की चोखा बना हुआ है लेकिन चोखा कही नज़र नही आया । वही रसोईया ने बतायी की इस  विद्यालय में प्रत्येक दिन सिर्फ खिचड़ी ही बनता है ।वही स्थानीय निवासी नारायण यादव ने बताया की इस  विद्यालय में पढाई के नाम पर हमेशा मजाक होता है और बताया की इस विद्यालय मे पढाई कभी होती ही नही है ।



जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अर्थी जुलूस निकाला:-राजू केशरी , बेगूसराय !


राजू केशरी , बेगूसराय !



जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने आज विश्वविद्यालय की मांग को लेकर तथा अन्य मांगों को को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अर्थी जुलूस निकालकर दाह संस्कार किया कार्यकर्ताओं का क्रांतिकारी समूह हर हर महादेव चौकसे  छात्र सचिव धर्मराज कुमार और छात्र नेता कमल कुमार के नेतृत्व में सरकार के विरोध में गगनभेदी नारे लगाते हुए निकला और जी डी कॉलेज गेट पर पहुंचा जहां छात्र नेता गौतम रजक की अध्यक्षता में एक सभा हुई सभा को संबोधित करते हुए जन अधिकार छात्र परिषद के जिलाध्यक्ष नीरज कुमार ने कहा की बेगूसराय जिला विश्वविद्यालय की तमाम अहर्ता रखता है जब विश्व विद्यालय खोलने का वादा सरकार के द्वारा किया गया था तो फिर क्यों खुले मंच से माननीय मुख्यमंत्री जी ने विश्वविद्यालय नहीं खोलने का एलान किया राष्ट्र कवि दिनकर की यह धरती मुख्य-मंत्री जी के यह ऐलान से मर्माहत हुई है इससे आक्रोशित होकर  छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने आज आंदोलन का बिगुल फूंक दिया है किसी भी कीमत पर बेगूसराय जिले में विश्वविद्यालय खोलना होगा सड़क से संसद तक संगठन के कार्यकर्ता विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए अनवरत संघर्षरत रहेंगे जन अधिकार युवा परिषद के जिलाध्यक्ष समीर चौहान और युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष अंजय कुमार ने कहा कि बेगूसराय के साथ सरकार का सौतेला व्यवहार जग जाहिर हो चुका है मेडिकल कॉलेज के नाम पर बेगूसराय को सब्जबाग दिखाया गया शिलान्यास के बाद भी मेडिकल कॉलेज का निर्माण नहीं हुआ जिले का गौरव आयुर्वेदिक कॉलेज आज अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है जिले की अस्मिता का प्रतीक काबर झील जो एशिया की मीठे पानी की सबसे बड़ी झील है आज विलुप्त होने की कगार पर है और सरकार कावर महोत्सव करके झील के प्रति अपने कर्तव्य की इति श्री समझ रही है

 हम लोग सरकार से मछुआरों और किसानों का हित संधान करते हुए कावर झील के सौंदर्यकरण करने की मांग करते हैं बेगूसराय के लोग फैक्ट्रियों का जहर पीने को मजबूर है AIIMS सबसे अधिक जरूरत बेगूसराय जिले को है फैक्ट्रियों के प्रदूषण के कारण बेगूसराय के निवासी गंभीर बीमारियों से आक्रांत हो रहे हैंबेगूसराय में  AIIMS खोलने की दिशा में सरकार के द्वारा कोई पहल दृष्टिगोचर प्रतीत नहीं होती है हमारा संगठन इस मांग को लेकर बहुत अधिक गंभीर है चुनाव के समय 24 घंटे बिजली का जो वादा किया गया था वह हाथी का दांत साबित हो रहा है भयंकर गर्मी से जनता त्राहिमाम कर रही है हलकान हो रही है सरकार और विद्युत विभाग दोनों को जनता की कोई परवाह नहीं है संगठन जनता की परेशानी को किसी भी कीमत बर्दाश्त नहीं करेगा अनवरत रूप से सड़क से संसद तक सरकार के सौतेलेपन के खिलाफ संघर्ष का दौर चलता रहेगा जब तक कि हमारी मांगे पूरी ना हो जाए सभा का संचालन मुकेश कुमार ने किया मौके पर बिट्टू कुमार सुनील रजक दिनेश पासवान अखिलेश कुमार संतोष कुमार प्रभात कुमार पिंटू नीलेश पासवान अरुण कुमार मोहन कुमार मोहम्मद अफजल सहित दर्जनों छात्र और युवा उपस्थित थे उन्होंने एक स्वर में इन मांगों के समर्थन में अपनी आवाज को बुलंद किया !


युवा जनता दल यू के द्वारा केंद्र सरकार के युवा बेरोजगार विरोधी नीति के खिलाफ एकदिवसीय धरना:-राजू केशरी ,बेगूसराय

राजू केशरी ,बेगूसराय 

बेगूसराय- युवा जनता दल यू बेगूसराय में बेरोजगारी भगाओ देश बचाओ केंद्र सरकार के युवा बेरोजगार विरोधी नीति के खिलाफ एकदिवसीय धरना हड़ताली चौक पर दिया ।इस धरना की अध्यक्षता संगठन के अध्यक्ष विकास कुशवाहा ने किया तथा पर्वेक्षक पवन कुमार सिंह ने किया ।इस धरने को संबोधित करते हुए बिहार सरकार के समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने कहा कि जब साल 2014 में पीएम मोदी चुनाव प्रचार कर रहे थे तो उन्होंने अपने रैलियों में कई बार देश के युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी लेकिन आज सरकार के 3 साल बीत चुके हैं और लगातार युवाओं की नौकरियां छीनी जा रही है ।भारत सरकार के श्रम मंत्रालय के लिए ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि नए रोजगार पैदा होने में 84 फीसदी गिराबत आई है। जदयू जिलाध्यक्ष भूमि पाल राय ने कहा की गैर मतलब है कि नरेंद्र मोदी सरकार के 3 साल पूरे हो गए हैं। लेकिन लगभग हर मोर्चे पर मोदी सरकार नाकाम साबित हो रही है। महंगाई बेरोजगारी शिक्षा स्वास्थ्य और अन्य जरुरी मुद्दों के बजाय भाजपा इन 3 साल में लव जिहाद, एंटी रोमियो ,गौ रक्षा ,घर वापसी, राम मंदिर और हिंदु राष्ट्रवादी अहम रहा है

युवा अध्यक्ष विकास कुशवाहा ने एक दिवसीय धरना के माध्यम से भारत सरकार से मांग की है कि बेगूसराय में AIIMS खोलने एवं बायो रिफाइनरी की स्थापना की जाय ।इस अवसर पर प्रदेश महासचिव रुदल राय,उपाध्यक्ष पंकज सिंह ,जिला प्रवक्ता अरुण महतो,मुकेश राय, मनीष कुशवाहा ,पवन कुमार महतो ,युवा प्रवक्ता प्रेम प्रकाश शर्मा, मोहम्मद आजाद, सुजीत भगत, सिकंदर कुमार ,अनिल पटेल, विनीता नूतन ,अनीता मिश्रा, सुनील कुशवाहा, धर्मवीर कुमार, उमेश कुमार सहित दर्जनों युवा कार्यकर्ता मौजूद थे।
Attachments area


पटना -ग्रमीण विकास मंत्री श्रवण कुमार द्वारा बीडीओ से स्पष्टीकरण लेने का उप विकास आयुक्तों को निर्देश:-सी.के.झा , पटना !

सी.के.झा , पटना !

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में उपलब्धि नगन्य रहने के कारण ग्रमीण विकास मंत्री श्रवण कुमार द्वारा  बीडीओ से स्पष्टीकरण लेने का निर्देश शुक्रवार को  सचिवालय परिसर में सभी उप विकास आयुक्तों की हुई समीक्षात्मक  बैठक में  दी गयी ! आवास प्राप्त करने वाले एक भी लाभुक के खाते में प्रथम किस्त की राशि नहीं भेजने वाले पदाधिकारियों से स्पष्टीकरण लेने हेतू ग्रमीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने निर्देश दिया है !    इसके अलावा मंत्री ने जिलें में 
अरवल, बांका, जहानाबाद, लखीसराय, मधुबनी, नवादा, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, रोहतास, सहरसा, शिवहर और वैशाली जिले में वित्तीय वर्ष 2016-17 में आवास प्राप्त करने वाले एक भी लाभुक के खाते में प्रथम किस्त की राशि नहीं भेजने के कारण संबंधित उप विकास आयुक्तों से स्पष्टीकरण लेने को कहा है। 
इस आवास  योजना में  उपलब्धि जिन  22 प्रखंडों में शून्य जैसा रहा वो बक्सर के ब्रह्मपुर व चौगांई, जहानाबाद के जहानाबाद सदर व मखदुमपुर, लखीसराय के बड़हिया, चानन, पिपरिया, रामगढ़ व सूर्यगढ़ा, मुजफ्फरपुर के मीनापुर, बेतिया के नरकटियागंज, पटना के बख्तियारपुर व संपत्तचक, पूर्वी चंपारण के मेहसी, रोहतास के डेहरी, कोचस, राजपुर व सासाराम, समस्तीपुर के मोरवा और वैशाली के लालगंज, महनार व राजापाकड़ है !
बताते चलें कि इस प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में वित्तीय वर्ष 2016-17 में एक भी आवास स्वीकृत नहीं किए जाने वाले दस जिलों के 22 प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारियों पर कठोरतम कार्रवाई होनी है ! 
साथ ही मंत्री ने उन पंचायतों के जिम्मेदार पदाधिकारियों पर भी कार्रवाई करने को कहा है जो चालू वित्तीय वर्ष में मनरेगा के तहत अब तक शून्य मानव दिवस सृजित करने वाला रहा है । केंद्र पर पाँच सौ करोड़ बकाया समीक्षा में यह बात भी सामने आयी कि मनरेगा योजना में सामग्री मद में केंद्र सरकार पर करीब पाँच सौ करोड़ बकाया है। इसके कारण क्रियान्वयन में परेशानी हो रही है। लाभुकों को आधार कार्ड से जोड़ने का भी मंत्री ने निर्देश दिया। उन्होंने लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान और आधार कार्ड निर्माण में बिचौलियों की भूमिका समाप्त करने की बात कही। उन्होंने कहा कि बिचौलियों की भूमिका से भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलता है। समीक्षा बैठक में विभाग के सचिव अरविंद चौधरी समेत तमाम आलाधिकारी उपस्थित थे।


 
इण्डिया न्यूज लाइव मे लगे खबरों का सम्बध समाचार संवावदाताओ से है, सम्पादक का इन खबरो से सहमत हो जरूरी नही, समाचार संवावदाता स्ंवय जिम्मेदार है
Copyright © 2016, Indianewslive.net
Concept By mithilesh2020 | Designed By OddThemes & Customised By News Portal Solution